राज्य

बिजनौर पुलिस ने सोमवार को चार लोगों की गिरफ्तारी के बाद शनिवार की रात हुई लूट की गुत्थी सुलझाने का दावा किया

MOHD ZAFAR

बिजनौर. उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में एक व्यापारी राजीव अग्रवाल को कथित तौर पर बाइक सवार चार लोगों ने रास्ते में रोक लिया, जब वह घर जा रहा था। बिजनौर पुलिस ने सोमवार को चार लोगों की गिरफ्तारी के बाद शनिवार की रात हुई लूट की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। आरोपियों ने कबूल किया कि उन्होंने डकैती इसलिए की थी क्योंकि वे उस व्यापारी से बदला लेना चाहते थे जिसने उन्हें नौकरी से निकाल दिया था। आरोपी ने उस पर धारदार चीजों से हमला किया और 2.49 लाख रुपये से भरा बैग, एक लैपटॉप और कुछ दस्तावेज छीन कर भाग गए।बिजनौर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) धर्मवीर सिंह ने आगे कहा कि कहा कि चारों की पहचान मोहम्मद मोहसिन, दीपक कुमार, मलखान सिंह और प्रवेंद्र कुमार के रूप में हुई है, जिन्होंने अपराध कबूल कर लिया है। उन्होंने कहा कि मलखान अग्रवाल के स्वामित्व वाली एक दुकान में काम करता था। जिसने उसे काम से निकाल दिया था। मलखान अपमान का बदला लेना चाहता था और उसने एक गिरोह बनाकर लूट की योजना बनाई। उन्होंने शनिवार को अग्रवाल को पकड़ लिया और उसे चाकू की नोक पर लूट लिया। पुलिस ने इनके पास से चोरी के 1.20 लाख रुपये और लैपटॉप बरामद किया है। इसके अलावा, चार देशी पिस्टल और दो बाइक भी जब्त की गई हैं।

Report :- MOHD ZAFAR
Posted Date :- 12-10-2021

राज्य